short story on teachers day

पीरियड ख़त्म होने पर नंदिनी सब बच्चों की नोटबुक्स लेकर, जिनमें नमन की भी थी, क्लास से निकल गईं. हिंदी कहानी- टीचर्स डे (Hindi Short Story- Teachers’ Day) By Usha Gupta in Family Drama, Short Stories, Others. आसपास के लोगों की मदद से जितना हो सकता है, अभी चल रहा है. फिर डांटा, “कुछ पूछ रही हूं तुमसे, कुछ याद है?” नमन ने सिर नीचे झुका दिया. क्रोध और घृणा के मिले-जुले भावों से उनके माथे पर त्यौरियां उभर आईं. नंदिनी के मुंह से कुछ नहीं निकला. Story no. करने क्या आता है स्कूल, जब पढ़ाई में मन ही नहीं लगता और कितना गंदा रहता है. प्रतिदिन की तरह नमन को डांटने-फटकारने की इच्छा बलवती हुई, तो जान-बूझकर तेज़ स्वर में बोली“नमन!” नमन कांपता-सा खड़ा हो गया. Day in and day out, I get to hear the most amazing and moving stories about teachers who selflessly put in their best into teaching for the sake of the success of their students. टीचर्स डे पर बच्चों ने कुछ प्रोग्राम पेश किए, कुछ कविताएं सुनाई गईं, एक-दो नाटक भी हुए, प्रोग्राम अच्छा रहा. बहुत ही अच्छे अंक प्राप्त किए थे. हमारा कर्तव्य है कि अपने स्टूडेंट्स के गिरते मनोबल को उठाकर जीवन में आगे बढ़ने में उनकी मदद करें. बच्चे हंसने लगे. नमन! Share us: नमन ने कांपती आवाज़ में कहा, “यह मेरी मां की है. “जी मैम, थैंक्स.” कहकर सीधे वॉशरूम में गईं. Connect to the growing family of people using educational stories. छमाही परीक्षा में नमन ने सबको हैरान कर दिया. The moral of the story is that we should never take our teachers for granted: they can not only give us knowledge, but also help to make us who we are. बच्चों की समवेत फुसफुसाहट सुनाई दी, जिसकी उपेक्षा कर नंदिनी ने नमन को अपने पास बुलाया. 61:Rau’fa and hygiene of hands and mouth. नंदिनी ने आगे पढ़ाना शुरू कर दिया. "But I can't," insisted Les. क्या सिखा रहे हैं?” नंदिनी रोज़ घर पर भी नमन को कोसती रहती थीं. रोनी शक्ल! नमन नहीं आया था क्या?” संजीव ज़ोर से हंस पड़े, पर नंदिनी की आंखों से अचानक बह चली अश्रुधारा देखकर पिता-पुत्री चौंक गए. He/she is charged with the responsibility of creating awareness as well as opening the mind of people by instilling values, morals, and ethics. नंदिनी ने स्नेहपूर्वक पूछा, “नमन, होमवर्क किया?” नमन ने कुछ जवाब नहीं दिया. This is a day to honour our teachers for their valuable work. बच्चे बीच-बीच में उसे देखकर मुस्कुराते रहे. बस, यह साल निकल जाए, मेरी जान छूटे इससे. घर-गृहस्थी, नमन की देखरेख करनेवाला कोई भी नहीं है. 2. 500+ Words Essay on Teachers Day. When smartphone becomes a tool for rapists. Because we’ll do anything to get our kids to read. अगले दिन नंदिनी जब क्लास में आईं. "Young man, come up here and solve this problem for me." ख़ुद ही तैयार होकर स्कूल आ जाता है. घर जाकर भी नंदिनी अपने पति संजीव और सोलह वर्षीया बेटी रिया से रोज़ की तरह नमन की शिकायत करने लगीं, तो रिया ने हंसकर कहा, “मम्मी, आपके तो दिलोदिमाग़ पर छाया रहता है आपका फेवरेट स्टूडेंट नमन.” नंदिनी ने बनावटी ग़ुस्से से कहा, “चुप रहो रिया, सुबह उसकी शक्ल देखते ही ग़ुस्सा आ जाता है. नमन के चेहरे पर कोई प्रतिक्रिया नहीं थी. बेचैनी से सुबह होने की प्रतीक्षा करती रहीं. मैं कुछ पूछती हूं, तो बताना.” नमन बिल्कुल चुप रहा. 60: Hoori in the wedding ceremony. रातभर नमन का उदास चेहरा नंदिनी की आंखों के आगे आता रहा और वह ममता से भीगी अपनी आंखें पोंछती रहीं. नमन डरता हुआ उनके पास आकर खड़ा हो गया. अब नमन अन्य बच्चों के साथ बातें करता भी दिख जाता था. नमन की आंखों में डर और हैरानी दोनों दिखे नंदिनी को. नमन के हाथ में भी पुराने अख़बार में लिपटा हुआ एक पैकेट था. Ltd. – Terms of Use. Because we go above and beyond for our students. हम टीचर्स हैं. किसी की परवाह किए बिना नमन को बांहों में भर रो पड़ीं नंदिनी! 63:Attachment of Aqa Abul Fazl; Story no. जल्दी ही काम पर जाना शुरू करेंगे. Story no. Teacher’s day is celebrated on 5 th September every year, because of the Sarvapalli Radhakrishnan, who was the former president of India, born on this day.. Th Sarvapalli Radhakrishnan was born on 5 th September 1888. कैसे मेरा पीछा छूटेगा इस गंदे लड़के से.’ वे कॉपी एक तरफ़ रख अपना सिर चेयर पर टिकाकर सोचने लगीं, ‘बहुत ग़ुस्सा आता है नमन पर, नफ़रत-सी होती है, बाकी सब बच्चों के चेहरे पर कितनी ताज़गी-ख़ुशी, कितना उत्साह, शरारत दिखती है और ये रोनी सूरत लेकर बैठा रहता है. Teacher's Day in India is an annual celebration observed on 5th of September. अब नमन नंदिनी से अपने पिता के बारे में भी बात करने लगा था. आज इतनी चुप? कई बार उसके लिए कुछ खाने के पैकेट भी ले आतीं और अपने पास बुलाकर चुपचाप दे देतीं. शांत, उदास! अपने आप पर शर्म आ रही है मुझे.” एक अपराधबोध नंदिनी के मन-मस्तिष्क पर हावी होता जा रहा था. दोनों नमन की मां के जाने के दुख से अभी तक उबर नहीं पाए हैं. Story no. A Teacher is someone who acts as a guide and inspiration to people – both young and old. स्कूल में छोटा-सा प्रोग्राम होता था. बहुत पूछने पर नमन के बारे में बताया, तो माहौल उदास हो गया. "I'm educable mentally handicapped." "Of course you can," the teacher responded encouragingly. तबीयत तो ठीक है?” Teachers Day is celebrated as a mark of tribute to the contribution made by teachers to society. हिंदी कहानी- टीचर्स डे (Hindi Short Story- Teachers’ Day) By Usha Gupta in Family Drama, Short Stories, Others. These, the teacher thought, would be the subjects of most of her student’s art. नमन को ख़ूब शाबाशी दी. किसी की परवाह किए बिना नमन को बांहों में भर रो पड़ीं नंदिनी! Here’s just some of the reasons we’re grateful for teachers this year. ममता में भी एक ख़ुशबू होती है, महसूस कर लिया ज़रा-से बच्चे ने. नमन ने चुपचाप अपना पैकेट बहुत ही संकोच के साथ नंदिनी के आगे कर दिया, “मैम, आपके लिए!” नंदिनी ने इतने उपहारों में सबसे पहले नमन का दिया पैकेट खोला. नंदिनी ने जैसे ही क्लास में पैर रखा, प्रतिदिन की तरह उनकी नज़र सबसे पीछे के बेंच पर कोने में बैठे नमन पर पड़ी. छिः बहुत पाप हुआ!’ पर नमन की भोली मुस्कुराहट में नंदिनी का ममतापूर्ण हृदय डूबता चला गया. उसकी नोटबुक्स भरने लगी थीं. मुझे उम्मीद है कि आप मेरी बात समझ ही गई होंगी.” न पूछने पर कोई उत्तर, न बताने पर कोई प्रतिक्रिया. The rest of the class erupted in laughter. नंदिनी के विनयपूर्वक आग्रह करने पर बाकी टीचर्स भी नमन पर अतिरिक्त ध्यान देने लगी थीं. नंदिनी जैसे हैरत में डूबी थीं. नंदिनी कोहनी टेबल पर टिका हाथों में मुंह छुपाए रोए जा रही थीं. Story no. Meri Saheli, कहानी- रेशमी गांठ (Short Story- Reshmi Ganth), कहानी- मोह माया मायका (Short Story- Moh Maya Mayka), कहानी- शादी का लड्डू (Short Story- Shadi Ka Laddu), Pioneer Book Co. Pvt. नज़र आंसुओं से धुंधला गई. एकदम चुपचाप पता नहीं किन ख़्यालों में डूबा क्या सोचता रहा. 64: Why we attend classes. नंदिनी नमन को अपने पास ही खड़ा करतीं. The first grade teacher gave her class a fun assignment — to draw a picture of something for which they were thankful. धीरे-धीरे नमन में एक सुखद परिवर्तन दिख रहा था. संजीव ने पूछा, “क्या हुआ नंदिनी? एक पुरानी साड़ी! गंदी हैंडराइटिंग. 1. पिता अकेले हैं. मेरी सहेली’ (Meri Saheli) भारत की सबसे ज़्यादा बिकनेवाली महिलाओं की हिंदी मासिक पत्रिका (No.1 Women’s Hindi Magazine) है, जिसमें महिलाओं से संबंधित हर पक्ष और पहलू को छूने का पूरा प्रयास किया जाता है.Read More, Copyright © 2020. उस दिन जब नंदिनी घर पहुंचीं, तब संजीव और रिया उनके चेहरे पर छाई उदासी व गंभीरता देख हैरान हुए. Story no. Why music industry is disappointed with Bihar polls. क्या करता होगा. I was made to sweep the corridors and I felt pretty bad about it.

Are Armenians Arab, What Is The Rarest Pet In Prodigy 2020, The Faculty Remake, Crash Tag Team Racing Nitro-fueled, Boq Specialist Contact, Try Again Lyrics Keane, Ohm Website, Tory Lanez Say It, Sing Johnny And Ash, Electron Volts To Joules, Birmingham Midshires Consumer Buy To Let, Harriet Sansom Harris Hollywood, Openkm Docker, Metallica Enter Sandman, Southern Company Gas Phone Number, Karl Maka, Best All-rounder In Odi Cricket History, Feel The Beat Characters, Masterchef Season 6 Episode 1 Full Hd, Power Trailer Season 2, Michael Stackpole An Ungrateful Rabble, Little Girl Goes Missing, Behringer V-tone Gmx212,

This entry was posted in News.

Leave a Reply